महिला कारोबारियों के लिए कैसे हासिल करें बिजनेस लोन? ये है पूरी प्रक्रिया

मौजूदा स्थितियों में, महिलाएं कई क्षेत्रों जैसे एंटरप्राइजेज और इंडस्ट्रीज को न सिर्फ चला रही हैं बल्कि उनमें बदलाव भी ला रही हैं. वे सिर्फ घरेलू काम तक ही सीमित नहीं रह गई हैं बल्कि घर के कामों की सीमाएं तोड़कर पेशेवर मोर्चे पर भी काम कर रही हैं. इन दिनों, महिलाएं कारोबारी गतिविधियों में भी शामिल हैं. लेकिन बिजनेस को चलाने के लिए बड़ी पूंजी की जरूरत पड़ती है और ऐसी स्थितियों में महिलाओं के लिए छोटे बिजनेस लोन पर विचार किया जा सकता है, जिससे तुरंत आपको बिना किसी परेशानी के लोन मिल जाएगा.

कुछ सामाजिक कारणों से भारत में महिला कारोबारियों के लिए बिजनेस लोन हासिल करना एक चुनौती है. लेकिन कॉरपोरेट की दुनिया में मौजूदा बदलाव से महिला कारोबारियों के लिए लोन हासिल करना आसान हो गया है.

वर्ल्ड बैंक ग्रुप के एक सदस्य अंतरराष्ट्रीय फाइनेंस कॉरपोरेशन की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में महिलाओं के स्वामित्व वाले छोटे एवं मध्यम उद्योगों की तादाद करीब 30 लाख है और इन 30 लाख महिलाओं के 78 प्रतिशत बिजनेस सर्विस सेक्टर के हैं.

क्या है महिलाओं के लिए बिजनेस लोन?

बिजनेस लोन फॉर वुमेन भारत में खासतौर पर महिला कारोबारियों के लिए बनाए गए हैं. इस लोन का मकसद मौजूदा और भविष्य के कारोबार को बिना झंझट और वक्त पर वित्तीय सहायता मुहैया कराना है. ऐसे लोन 6 महीने, 12 महीने, 18 महीने और 24 महीने की समयावधि में चुकाए जा सकते हैं.

महिलाओं के लिए बिजनेस लोन के फीचर्स और फायदे:

चूंकि अब कई बैंक और एनबीएफसी महिला कारोबारियों को छोटे बिजनेस लोन मुहैया करा रहे हैं इसलिए लोगों के लिए इनमें से कोई एक चुनना करीब-करीब असंभव हो गया है.

फ्लेक्सिबल पेबैक ड्यूरेशन: एक छोटा बिजनेस लोन कारोबारी जरूरतों को पूरा करने के लिए पैसे उधार लेने और भुगतान करने की सुविधा देता है. अगर आप मंजूर किए हुए लोन पर कई लेनदेन भी करते हैं तो आपको सिर्फ उसी राशि पर ब्याज देना है, जो आप चुकाएंगे, जिससे आपकी ईएमआई 45 प्रतिशत तक कम हो जाएगी.

न्यूनतम दस्तावेज: दस्तावेजों के तौर पर विभिन्न कागजात जमा कराने पड़ते हैं जैसे बिजनेस रजिस्ट्रेशन प्रूफ, आईडी कार्ड, बैंक स्टेटमेंट इत्यादि.

तुरंत प्रोसेसिंग: ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया बेहद आसान है और काम एक ही दिन में हो जाता है. न्यूनतम दस्तावेज और आसान आवेदन प्रक्रिया होने से कई महिला कारोबारी इसे तवज्जो देती हैं.

ऑनलाइन फंड मैनेजमेंट: सिर्फ कुछ क्लिक और आप बिना झंझट ऑनलाइन फंड्स हासिल कर सकते हैं. आप ऑनलाइन अकाउंट भी आसानी से चला सकते हैं.

बिजनेस लोन के लिए योग्यता का पैमाना: महिला बिजनेस लोन लेने के लिए 23 साल की उम्र होनी चाहिए, न्यूनतम 2 वर्ष का आईटीआर, अच्छा क्रेडिट रेटिंग स्कोर और बिजनेस संचालन को दो वर्ष पूरे हो चुके हों.

बिजनेस लोन ब्याज दरें: महिलाओं के लिए छोटे बिजनेस लोन मामूली फीस और शुल्कों पर लिए जा सकते हैं, जिससे कारोबारी अपनी बचत को बढ़ा सकते हैं.

महिलाओं के लिए बिजनेस लोन के लिए कैसे करें आवेदन?

कोई भी बिना परेशानी के कम ब्याज दरों पर इस एमएसएमई लोन के लिए अप्लाई कर सकता है. इसके लिए किसी चीज की गारंटी भी नहीं रखनी पड़ती. आइए आपको एप्लिकेशन फॉर्म भरने का तरीका बताते हैं.

– सबसे पहले एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया को चेक करें.
– अपनी ईएमआई कैलकुलेट करें.
– इसके बाद इन्क्वॉयरी फॉर्म में अनिवार्य जानकारियां जैसे नाम, ईमेल, मोबाइल नंबर, शहर, बिजनेस का प्रकार, एक्सपोर्टर, मैन्युफैक्चरर, ट्रेडर, सप्लायर, इम्पोर्टर, टर्नओवर,         जरूरी लोन राशि और अनुमानित आरओआई (रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट) भरें.

महिलाओं के लिए बिजनेस के लिए जरूरी दस्तावेज:

यह समझना बेहद जरूरी है कि आपको महिला कारोबारियों के लिए बिजनेस लोन के लिए अप्लाई करने से पहले सारे जरूरी दस्तावेज अरेंज करने होंगे. नीचे हम आपको कुछ दस्तावेज बता रहे हैं, जो भारत में बिजनेस लोन फॉर वुमेन के अप्रूव होने के लिए जरूरी हैं.

– बिजनेस रजिस्ट्रेशन प्रूफ
– आईडी प्रूफ: आधार कार्ड और पैन कार्ड
– पिछले 6 महीने की बैंक स्टेटमेंट
– मालिक और कंपनी के केवाईसी दस्तावेज
– अपडेटेड आईटीआर स्टेटमेंट्स

Leave a Comment