क्या दो बैंकों से एक ही समय लोन लेना मुमकिन है, जानिए

आप ऐसी स्थिति में भी आ सकते हैं, जब आपने घर के रेनोवेशन के लिए पर्सनल लोन ले रखा हो लेकिन अब आपकी बेटी की शादी भी आ गई. ऐसी स्थिति में कई सवाल आपके दिमाग में आ रहे होंगे, जैसे क्या आपको टॉप-अप लोन लेना चाहिए या किसी अन्य बैंक से दूसरा लोन. एक सवाल यह भी है कि क्या दोनों बैंकों या कर्जदारों से लोन मिलना मुमकिन है.

जवाब है हां. आप दो बैंकों से एक ही समय लोन ले सकते हैं. लेकिन आपको दूसरे लोन की योग्यताओं को पूरा करना होगा.

अच्छा क्रेडिट स्कोर

जब आप लोन के लिए कर्जदाता के पास जाते हैं तो वह सबसे पहले रेटिंग एजेंसियों के पास आपका क्रेडिट स्कोर देखता है. अगर क्रेडिट स्कोर अच्छा है या 750 के ऊपर है तो आप नए लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

रेंज

ग्रेड

750+एक्सीलेंट
700-749गुड
650-699फेयर
550-649पूअर
550 & belowबैड

 

आपके क्रेडिट स्कोर के अलावा, बैंक आपकी पुनर्भुगतान क्षमता भी देखता है. इसी के आधार पर बैंक तय करता है कि आप लोन देने लायक हैं या नहीं.  बैंक आपकी पुनर्भुगतान क्षमता को जांचने के लिए FOIR यानी Fixed Obligation to Income Ratio (फिक्स्ड ऑब्लिगेशन तो इनकम रेश्यो ) का इस्तेमाल करता है. इस पैमाने के मुताबिक, एक लोन ग्राहक को अपने तय कामों की सीमा तय करनी होती है, जिसमें मौजूदा लोन की ईएमआई, उसकी 50 प्रतिशत आय पर लागू होगी. दूसरे शब्दों में कर्जदाता यह तय करेगा कि आपकी मासिक लोन ईएमआई आपकी मासिक आय के 50 प्रतिशत से ज्यादा न हो. माना जाता है कि बाकी का 50 प्रतिशत आपके जीवन जीने के लिए जरूरी है.

Read also: पर्सनल लोन पर आप पा सकते हैं टैक्स छूट, जानिए कैसे

आपको दो लोन एक साथ मिल सकते हैं लेकिन ध्यान रहे कि दूसरा लोन महंगा और जोखिम भरा हो सकता है. ज्यादा उधार लेने से आपकी ईएमआई और लोन की कुल लागत बढ़ जाएगी. इससे आपको कर्ज चुकाने में दिक्कत आएगी. अगर आपने कोई ईएमआई नहीं दी या छोड़ दी तो इससे आपके क्रेडिट स्कोर पर नकारात्मक असर पड़ेगा. इसके अलावा आप अपने पर्सनल लोन पर टॉप-अप लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

क्या होता है टॉप अप लोन?

टॉप अप लोन ग्राहक को उसके मौजूदा लोन पर ही दिया जाता है. यह पर्सनल लोन और होम लोन पर भी उपलब्ध है. अगर बैंक टॉप अप लोन ऑफर नहीं देता तो कस्टमर किसी नए कर्जदाता के पास अपना मौजूदा लोन ट्रांसफर कर टॉप अप लोन के लिए अप्लाई कर सकता है.

टॉप अप लोन के फायदे और खासियतें

1. कर्ज चकबंदी: ग्राहक अपने मौजूदा पर्सनल लोन पर टॉप अप लोन लेकर क्रेडिट कार्ड जैसे बिल वक्त पर चुका सकते हैं. अन्य कर्जों की चकबंदी से ग्राहक कुल ब्याज लागत को घटा सकते हैं और अब उनके पास एक ही लोन चुकाने के लिए होगा.

2. कम दस्तावेज: चूंकि ग्राहक का बैंक से पहले से ही संबंध है, बैंक ग्राहक, उसकी क्रेडिट हिस्ट्री और पुनर्भुगतान के बर्ताव को जानता भी है. लिहाजा, दस्तावेजों की जरूरत न के बराबर रह जाती है. हालांकि यह शर्त हर बैंक में अलग-अलग होती है.

3. तेज प्रोसेसिंग: चूंकि बैंक ग्राहक को उसके लोन के कारण अच्छे से जानता है, इसलिए टॉप अप के लिए लोन राशि वितरण में भी तेजी आएगी.

4. ईएमआई चकबंदी: कई कर्जदाता ग्राहक को ओरिजनल लोन और टॉप अप लोन को एक ही ईएमआई में चुकाने की इजाजत दे देते हैं. इसलिए अलग-अलग लोन चुकाने का झंझट भी नहीं रह जाता. लिहाजा आपको एक ही ईएमआई हर महीने भरनी होती है और विभिन्न लोन के लिए अलग-अलग तारीखें भी याद नहीं रखनी पड़तीं.

5. आकर्षक ब्याज: जो ग्राहक ईएमआई चुकाने में कोई चूक नहीं करते, उन्हें कर्जदाता आकर्षक दरों पर टॉप अप लोन देते हैं. इस वजह से कई ग्राहक नए लोन के लिए अप्लाई करने की जगह टॉप अप लोन चुनते हैं.

6. अवधि का विस्तार: टॉप अप लोन की अवधि बकाया राशि, लोन अमाउंट और भुगतान की क्षमता पर निर्भर करता है. यह अवधि आपके पर्सनल लोन की अवधि की तुलना में ज्यादा हो सकती है. लंबी अवधि का मतलब है कि आपके पास लोन को चुकाने के लिए पर्याप्त समय है.

7. अन्य खर्चों को पूरा करने के लिए फंड: अगर आपने पहले से ही पर्सनल लोन घर की साज-सजावट के लिए लिया हुआ है लेकिन आपको वेकेशन या मेडिकल इमरजेंसी के लिए पैसों की जरूरत है तो आप मौजूदा लोन पर ही टॉप अप लोन ले सकते हैं. फिर आपको नया लोन लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

Read also: कम ब्याज दर पाने के लिए सेंक्शन लेटर का कैसे करें इस्तेमाल

अगर आप हैंडल करना जानते हैं तो पर्सनल लोन सबसे शानदार वित्तीय विकल्पों में से एक है.  सभी नामी बैंक और वित्तीय संस्थान पर्सनल लोन देते हैं. पर्सनल लोन आप घर के रेनोवेशन, वेकेशन, बच्चे की उच्च शिक्षा, शादी या किसी बड़ी खरीद के लिए ले सकते हैं.

Leave a Comment