छोटा बिजनेस लोन पाने के लिए इन चीजों की पड़ेगी जरूरत

जब भी आप तैयार हों एक छोटे बिजनेस लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं. इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप बैंक लोन के लिए अप्लाई करते हैं या फिर एनबीएफसी बिजनेस लोन के लिए, आपको कर्जदाताओं की जरूरत से वाकिफ होना पड़ेगा. कर्जदाताओं की जरूरत पहले से मालूम होने से आपके समय और ताकत दोनों की बचत होती है.

ये तरीके आपके बिजनेस लोन पाने में मददगार साबित होंगे

क्रेडिट स्कोर बनाएं: क्रेडिट स्कोर 300-900 तक होता है और यह कर्जदाता को बताता है कि ग्राहक की लोन चुकाने की क्षमता कैसी है. यह स्कोर आपकी पेमेंट हिस्ट्री, क्रेडिट कार्ड, अन्य ऋणों पर ली गई राशि, मौजूदा लोन और  कितने वक्त के लिए पैसा लिया गया के आधार पर होती है. क्रेडिट स्कोर एक अहम मापदंड होता है. इससे कर्जदाता यह देखते हैं कि ग्राहक कैसे अपना कर्ज मैनेज करता है. समय पर बिल पेमेंट करने से अच्छी क्रेडिट हिस्ट्री बनती है. हर शख्स को हर साल में एक बार मुफ्त में क्रेडिट रिपोर्ट मिलती है. आवेदक को भी अपनी क्रेडिट हिस्ट्री देखते रहनी चाहिए कि कहीं कोई गलत जानकारी तो नहीं डाली गई है. अगर कुछ गलत पाया जाता है तो वह उसे ठीक कराकर अपना क्रेडिट स्कोर और बेहतर कर सकता है.

क्या है बिजनेस लोन लेने की योग्यता

कर्जदाता की न्यूनतम जरूरतों को पूरा करने से आपकी एप्लिकेशन और मजबूत हो जाती है. अगर आवेदक किसी एक क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहा जबकि बाकियों में उसका प्रदर्शन अव्वल है तो कुछ कर्जदाता रियायत भी देते हैं. फिर भी, यह अच्छा है कि सारी जरूरतों को पूरा किया जाए.

ऑनलाइन कर्ज लेने वालों के लिए न्यूनतम क्राइटेरिया CIBIL स्कोर, बिजनेस में कितने साल, आईटीआर फाइलिंग और सालाना राजस्व होता है. लेकिन जिन कर्जदाताओं का पिछला रिकॉर्ड बैंकरप्सी का होता है, उनसे सभी कर्जदाता दूर ही रहते हैं. अगर कोई आवेदक बैंक लोन के लिए अप्लाई कर रहा है तो उसे लोन की अतिरिक्त जरूरतों को पूरा करना होगा. आमतौर पर बैंकों का एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया इतना सख्त होता है कि आवेदक के लिए लोन पास कराना मुश्किल हो जाता है. यूं तो कर्जदाता बिजनेस लोन के लिए मजबूत व्यापार राजस्व और क्रेडिट स्कोर मांगते हैं. इसके अलावा कर्जदाता को अतीत में कोई चूक नहीं करनी चाहिए. कहा जाता है कि ऑनलाइन लोन के लिए क्वॉलिफाई करना आसान होता है. ऑनलाइन कर्जदाताओं का आसान एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया होता है और उनकी कम सख्त जरूरतें होती हैं.

वे स्टार्टअप्स को भी लोन देने के लिए तैयार हो जाते हैं. लेकिन बिजनेस को दो साल का वक्त हो गया हो. इसके अलावा ऑनलाइन लोन की ब्याज दरों में काफी कॉम्पिटिशन भी होता है.

जरूरी दस्तावेज जमा करें

लोन एप्लिकेशन प्रोसेस करने के लिए बैंक और वित्तीय संस्थान कई दस्तावेज मांगते हैं. ये दस्तावेज हैं:

– इनकम टैक्स रिटर्न्स- पर्सनल और बिजनेस
– बैलेंस शीट
– इनकम स्टेटमेंट
– बैंक स्टेटमेंट
– ड्राइविंग लाइसेंस
– बिजनेस अग्रीमेंट
– एओए और एमओए
– बिजनेस प्लान
– फाइनेंशियल प्रोजेक्शन

ये सभी जरूरतें बिजनेस लोन हासिल करने में और ज्यादा देरी करा सकती हैं. लेकिन अगर आपने एनबीएफसी से बिजनेस लोन लिया है तो कोई मुद्दा नहीं है. इसके अलावा, अगर तुरंत पैसों की जरूरत है तो ऑनलाइन कर्जदाता इसके लिए बेस्ट हैं. उनकी अपनी आसान ऑनलाइन एप्लिकेशन प्रोसेस है और दस्तावेजों की जरूरतें भी कम हैं.

बिजनेस प्लान तैयार करें

सभी लोन देने वाले यह जरूर जानना चाहते हैं कि पैसे का कैसे इस्तेमाल होगा, प्रॉफिट कैसे आएगा ताकि कर्ज चुकाया जा सके.  उन्हें एक मजबूत बिजनेस प्लान की जरूरत होती है, जिसमें सिर्फ ऑर्गनाइजेशन का विजन और ऑब्जेक्टिव ही न हो बल्कि यह भी हो कि प्रॉफिट को कैसे बढ़ाया जाएगा.

बिजनेस प्लान में मौजूदा और अनुमानित वित्तीय शामिल होना चाहिए. साथ ही चल रही पूंजीगत जरूरतों को पूरा करने के लिए बिजनेस के कैश फ्लो को दिखाना चाहिए. इससे कर्जदाता का आपके बिजनेस में विश्वास बढ़ेगा और लोन अप्रूव होने के चांस भी बढ़ जाएंगे.

बिजनेस प्लान में ये चीजें शामिल होनी चाहिए:

– कंपनी का विवरण
– प्रॉडक्ट और सर्विस का विवरण
– इंडस्ट्री का एनालिसिस
– मैनेजमेंट टीम
– एसडब्ल्यूओटी एनालिसिस
– प्रोमोशनल, मार्केटिंग और सेल्स की रणनीति

कोलेटरल का ऑफर

बिजनेस लोन के लिए क्वॉलिफाई करने के लिए आवेदक को लोन की राशि के एवज में गारंटी मुहैया करानी पड़ती है. कोलेटरल असल में कोई संपत्ति होती है, जिसकी एक वैल्यू होती है जैसे रियल एस्टेट, इन्वेंट्री इत्यादि. मूल रूप से अगर आप कर्ज चुकाने में नाकाम रहते हैं तो कर्जदाता संपत्ति बेचकर अपना नुकसान रिकवर करता है. वहीं एनबीएफसी में कोलेटरल की जरूरत नहीं होती. वे बिजनेस लोन बिना कोलेटरल के देते हैं. इसलिए अगर आप ऊपर बताए गए पॉइंट्स को ध्यान में रखते हैं तो आसानी से छोटा बिजनेस लोन अप्लाई कर सकते हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*